Recent Posts

माँ मैं हैवान नही था

-हर्ष नारायण श्रीवास्तव माँ मैं हैवान नही था,तेरी कोख में पला श्राप नही था,हाँ समाज केे फ़रेबो से तो मैं अन्जान था,पर तेरे दिए संस्कारों का तो मुझे ज्ञान था,खुद से पहले दूसरे का सम्मान करना तूने ही सिखाया था,लड़कीओ को देवी का दर्जा देना ये तूने ही बताया था,बहन तेरी राखी कि इज़्ज़त मैंने … Continue reading माँ मैं हैवान नही था

More Posts